India’s First Driverless Electric Scooter: ओला ने पेश किया देश का पहला ड्राइवरलेस स्कूटर, जानिए इसके फीचर्स

India’s First Driverless Electric Scooter: क्या आप ने कभी बिना ड्राइवर वाला स्कूटर सोचा है? तो ओला ने ये सपना पूरा कर दिखाया है. ओला इलेक्ट्रिक ने एक ऐसा स्कूटर बनाया है जो ड्राइवर के बिना खुद चल सकता है! ओला के सीईओ भाविश अग्रवाल ने इस नए स्कूटर के बारे में जानकारी शेयर की. ओला ने इसे देश का पहला ऑटोनेमस इलेक्ट्रिक स्कूटर बताया है. कंपनी ने इसे पहियों पर होने वाला रेवोल्यूशन भी कहा है.

ड्राइवरलेस स्कूटर हुआ रिवील (India’s First Driverless Electric Scooter)

ओला इलेक्ट्रिक का नया मॉडल Ola Solo आ गया है! कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर Ola Solo से जुड़ा वीडियो शेयर कर लोगों को इस टेक्नोलॉजी से रूबरू कराया है. ओला का दावा है कि ये ड्राइवरलेस स्कूटर फुली ऑटोनोमस है. ये 100 फीसदी खुद ही स्पीड ब्रेकर और ट्रैफिक को समझ सकेगा. साथ ही, ओला ऐप की मदद से आप आसानी से ओला सोलो को चला भी सकेंगे. इस स्कूटर को बनाने में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानी एआई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है.

Ola Solo के फीचर्स

Ola Solo में एडवांस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हुए कई शानदार फीचर्स दिए गए हैं. यही खासियत ओला इलेक्ट्रिक के इस मॉडल को बाकी मार्केट में मौजूद स्कूटर्स से अलग बनाती है. ये स्कूटर ड्राइवरलेस होना अपने आप में इस क्षेत्र में एक बड़ा कदम है. गौर करने वाली बात ये है कि ओला सोलो के हर पार्ट और टेक्नॉलॉजी को ओला ने खुद ही डेवलप किया है.

ग्राउंड-ब्रेकिंग टेक्नोलॉजी

ओला सोलो में एक ज़बरदस्त टेक्नॉलॉजी शामिल की गई है जिसे QUICKIE.AI की मदद से बनाया गया है. ओला सोलो चलते समय कई भी ड्राइविंग से जुड़े फैसले तुरंत लेने में समर्थ है. साथ ही, ओला इलेक्ट्रिक के खुद के चिप LMAO9000 को इस स्कूटर में लगाया गया है, जिसकी वजह से ओला सोलो आसपास के ट्रैफिक को तुरंत भांप सकेगा.

सेल्फ चार्जिंग

ओला सोलो में तो कमाल ही कर दिया है! ये स्कूटर खुद भी चार्ज हो जाता है. जी हां, जब भी स्कूटर की बैटरी कम होगी तो ये अपने- आप आसपास के चार्जिंग स्टेशन को ढूंढ लेगा और वहां जाकर खुद को चार्ज कर लेगा. ओला सोलो पर बैठे व्यक्ति को इसकी चार्जिंग की बिल्कुल भी चिंता नहीं करनी पड़ेगी.

हर राइड से सीख लेगा ओला सोलो

ओला सोलो में एक लर्निंग सिस्टम भी शामिल किया गया है. यह हर एक राइट एक्सपीरियंस से सीखता रहेगा. इसके लिए इसमें JU-GUARD के एल्गोरिथम का इस्तेमाल किया गया है. 

ALSO READ| Affordable Automatic SUV: 10 लाख से कम में आरामदायक सफर! इन 5 SUVs में मिलेगा ऑटोमैटिक गियरबॉक्स

ALSO READ| Cars Launch in April 2024: अप्रैल में लॉन्च होने वाली 5 धमाकेदार कारें, इंडियन मार्केट में मचाएंगी धमाल